jump to navigation

एनीमेशन में अवसर अगस्त 6, 2008

Posted by Pravin in कम्प्यूटर, कॅरियर चुनाव.
Tags: , , , ,
trackback

हाल के कुछ वर्षों में एनीमेशन करियर के लिए हॉट क्षेत्र बनकर उभरा है. आने वाले दिनों में भारत में बीपीओ की तरह ही एनीमेशन सेंटर का विकास हो जाए तो आश्चर्य नहीं होगा. हॉलीवुड के बहुत से प्रोडक्शन हाउस एनीमेशन तकनीक के लिए भारत में अपने सेंटर स्थापित करना चाहते हैं. डिज़्नी पिक्चर्स, कार्टून नेटवर्क, निकेलोडियोन, रेनबो, जॉनकेडे और नेप्टूनो स्पेन अपने मल्टीमीडिया प्रोडक्शन के लिए भारत में अपने सेंटर स्थापित करना चाहते हैं.

अभी तक फिल्म और टेलीविजन का क्षेत्र ही एनीमेशन के लिए सबसे बड़ा माना जाता रहा है, लेकिन इसका उपयोग एजुकेशन, पब्लिशिंग, टूरिज़्म, रक्षा, इंजीनियरिंग, मार्केटिंग, एडवरटाइजिंग, इंटीरियर, वेब डिज़ाइनिंग, फैशन डिज़ाइनिंग जैसे कई क्षेत्रों में भी होना शुरू हो गया है. नासकॉम के अनुसार वर्तमान में एनीमेशन का बाजार 1500 करोड़ रूपए वार्षिक का है, लेकिन अगले दो वर्षों में आंकड़ा कई गुना होने की उम्मीद है.

एनीमेशन उद्योग में जिस तेजी से विकास हो रहा है, उस तेजी से उतने प्रशिक्षित एनीमेटर नहीं मिल रहे हैं. देश में 50 हजार प्रशिक्षित एनीमेटर्स की जरूरत है, जबकि वर्तमान में 10 हजार एनीमेटर ही उपलब्द्ध हैं. विशेषज्ञों का कहना है कि फिल्मों की बजाय मेडिकल क्षेत्रों में अघिक एनीमेटर्स की जरूरत होगी. ताजा आकलन के अनुसार अगले दो वर्षो में भारतीय एनीमेशन उद्योग को दो लाख एनीमेटर्स की जरूरत होगी.

पाठयक्रम — एनीमेशन में मुख्यरूप से 2-डी और 3-डी प्रमुख कोर्स हैं. इसमें प्रमुख रूप से 3-डी स्टूडियो मैक्स, साफ़्ट इमेज, माया, आफ्टर इफेक्ट, और एडोबी साफ्टवेयर की ट्रेनिंग दी जाती है. ग्राफिक्स डिज़ाइनिंग, स्क्रिप्ट राइटिंग, गेम डिज़ाइनिंग, स्टोरी बोर्ड तथा सिनेमेटोग्राफी में भी प्रशिक्षित होना पड़ता है. एनीमेशन में आमतौर पर बहुत से संस्थान 6 से 18 माह तक के डिप्लोमा कोर्स करवाते हैं, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलॉजी मुंबई और नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ अहमदाबाद ने स्त्रातक स्तर के पाठयक्रम शुरू किए हैं.

न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता — एनीमेशन कोर्स में एडमिशन लेने के लिए हायर सेकंडरी परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए. ड्राइंग और स्केचिंग में भी रूचि हो. कुछ संस्थान विशेष विषयों के साथ स्नातक की भी मांग करते हैं.

महत्वपूर्ण प्रशिक्षण संस्थान — देश में काफी संस्थान हैं, जो एनीमेशन का प्रशीक्षण देते हैं. इन संस्थानों में प्रमुख हैं:
– नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ डिज़ाइन, अहमदाबाद
– इंडस्ट्रीयल डिज़ाइन सेंटर एनीमेशन, आई.आई.टी. मुंबई
– आई.आई.टी. गुवाहाटी
– नेशनल मल्टीमीडिया रिसोर्स सेंटर, सी-डेक, पुणे

आमदनी — एनीमेशन के क्षेत्र में कुशल प्रोफेशनल लोगों की बढ़ती मांग से वेतन भी अच्छा मिलता है. प्रारंभिक तौर पर 7 से 15 हजार रूपए आराम से मिल जाते हैं. लेकिन कार्य का अनुभव होने पर एनीमेटर को 25 से 40 हजार रूपए प्रतिमाह मिलना आसान होता है. लेकिन इसके लिए ज़रूरी है कि आप में कुशलता और सृजनात्मक कल्पना शक्ति हो.

Advertisements

टिप्पणियाँ»

1. rahul vishwakarma - मई 2, 2010

sir mujhe animation ke baare me jaankari bhej dijiye


एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: